Sat. Nov 28th, 2020
Black money in india: जाने क्या होता हैं black money हिंदी में

Black money in india: अपने टीवी पर, इन्टरनेट पर और किसी से सुना होगा की किसी इंसान के पास करोड़ो की Black money हैं व Hawala Bazar, FATF, Black Money, Tax Heaven Country, Money Laundering, Gray List, Black List आदि के बारे सुना होगा, तो आईये जानते आसान भाषा में |

आखिर क्या हैं Black money in india

आखिर क्या हैं Black money in  india
Advertisement

जब हम कोई भी काम करते हैं और उसके बदले हम पैसे कमाते हैं तो उसकमाई से कुछ हिस्सा सरकार हमसे टैक्स के रूप में लेती हैं जिसको हम Income Tax भी कहते हैं. भारत में इसकी कुछ सीमा होती हैं जो की 5 लाख होती हैं यानि अगर आपकी साल की कमाई 5 लाख से कम हैं तो आपको ये टैक्स नही देना होता है और जब ये कमाई 5 लाख से ऊपर होती हैं तो उसमे सरकार आपसे टैक्स लेती हैं.

Advertisement

इसे भी पढ़े >>>a jio 5G on india 2020: 1GB की फाइल को एक सेकंड में डाउनलोड कर सकेगे आप

जब कोई इन्सान अपनी असली कमाई को छुपा देता हैं और सरकार को टैक्स नहीं देता तो उसकी छुपी हुए कमाई को Black money कहते है. लेकिन ये लोग ऐसा कैसे कर लेते हैं.

दरअसल ये लोग अपने पैसो को Hawala Bazar और Money Laundering के माध्यम से होता हैं.

क्या होता हैं Hawala Bazar और Money Laundering

क्या होता हैं Hawala Bazar और Money Laundering
Black money in india

Hawala Bazar: कुछ इंसान अपने Black money को white money करना होतो वो उसके लिए हवाला बाज़ार का सहारा लेते हैं. इसमें होता यु हैं ये लोग किसी दुसरे देश बेठे लोगो के साथ संपर्क करे बैठे होते हैं अगर मान लीजिये उस इंसान को अरब देशो से इंडिया में पैसा मगवाना होता हैं तो दोनों देशो की तरफ उनके कुछ लोग होते हैं.

जो एक तरफ से जितना पैसा कहा जाए उस इंसान को दे देते हैं जो किसी पास्वोर्ड के बताने पर ही होता हैं और बाद में दोनों देशो की  तरफ के बैठे बिचोलिये आपस में दुसरे तरीके से पैसे ले लेते हैं जो की Money Laundering के जरिये होता हैं.

क्या होता हैं Money Laundering

क्या होता हैं Money Laundering
Black money in india

Money Laundering दो देशो के बीच होता हैं इसमें होता यु हैं की जब दोनों तरफ से एक तरफ ज्यादा रकम का आदान प्रदान होता हैं तो इसमें एक देश में कोई डुप्लीकेट कंपनी खोली जाती हैं जिन कंपनी को SAIL कंपनी के नाम से भी जाना जाता हैं और इन्वेस्टमेंट के नाम पर वो Black money को उसमे इन्वेस्ट करवा दिया जाता हैं.

और बाद में कंपनी को दिवाला दिखा कर उन पैसो को उनके मालिको के पास भेज देते हैं. भारत में Money Laundering के ज्यादातर मामले आतंकवादी गतिविधियो से जुडी होती हैं.इसमें बाहरी देश इंडिया को नुक्सान पहुचाने के लिए ये सब करते और इसमें सस्बे बड़ा नाम पकिस्तान का आता हैं. ये सब वो सब इसलिए कर पाते हैं क्युकि कुछ Tax Heaven Country के कानून उनको ये सब करने की छूट दे देते हैं.

इसे भी पढ़े >>>FAU-G Teaser Released 2020: यहाँ हैं इंडिया का अपना PUBG मोबाइल अल्टरनेटिव का फर्स्ट लुक

जाने की Tax Heaven Country क्या होती हैं 

अगर किसी से पूछा जाए की सबसे ज्यादा Black money किस देश में हैं तो switzerland देश का नाम सामने जरुर आता हैं, क्युकि ये देश ब्लैक मनी रखने वालो के खिलाफ कोई करवाई नहीं करते हैं.

इसमें होता ये की कुछ इंसान अपने ब्लैक मनी को किसी तरह से एक देश से दुसरे देश और फेर तीसरे देश व अंत में आकर switzerland के पास ट्रान्सफर करवा देता हैं ये ट्रान्सफर कई छोटे-छोटे खातो से  या फिर डायरेक्ट सरकार से छुपा कर वहाँ पहुचा दिया जाता जो की उनके बैंक स्विस बैंक में जमा हो जाता हैं

जाने की Tax Heaven Country क्या होती हैं

जब दुसरे देश की सरकार उनके उस अकाउंट और उसके मालिक की जानकरी मागती हैं तो वहाँ की सरकार उनको ये जानकारी देने से मना कर देते हैं. इसी बात के कारण ही इन देशो को Tax Heaven Country भी कहते हैं. इस ब्लैक मनी से इन देशो की सरकार को काफी मुनाफा होता हैं. Tax Heaven Countries के नाम में Switzerland, Andorra, the Bahamas, Belize, Bermuda, the British Virgin Islands, the Cayman Islands, the Channel Islands, the Cook Islands, The Island of Jersey, Hong Kong, The Isle of Man, Mauritius, Lichtenstein, Monaco, Panama, St. Kitts, और Nevis हैं. ये देश टैक्स चोरी करने वालो के लिए एक स्वर्ग का काम करते हैं.

जाने क्या हैं Gray List, Black List

जाने क्या हैं Gray List, Black List

इस Black money के कारण टेरर फंडिंग (यानि आतंवादियों को उनके सामान दिलाने के पैसे) आदि का चलन  हो गया था इससे बचने के भारत और विश्व ने मिलकर 2 कानून निकाले थे.

(क) PMLA 2002 {india} (ख ) FATF 1989 {world}

PMLA का फुल फॉर्म Prevention of Money Laundering Act व  FATF का फुल फॉर्म Financial Action Task Force हैं.

PMLA का फुल फॉर्म Prevention of Money Laundering Act व  FATF का फुल फॉर्म Financial Action Task Force हैं.

इन दोनों एक्ट में दुनिया भर से टेरर फंडिंग को ख़त्म कर देने के लिए बनाया गया हैं. इसमें ये देखा जाता हैं की किस देश से किसी दुसरे देश में जो पैसा जा रहा वो money laundering या फिर टेरर फंडिंग के लिए तो नही जा रहा हैं. अगर ऐसा करता कोई देश पकड़ा जाता हैं तो उसको Grey List में डाल दिया जाता हैं. इसमें आने के बाद कोई भी बाहरी देश की कंपनी उस देश में इन्व्सेट नहीं करती  हैं और उसको बहार से कोई लोन नहीं दिया जाता हैं.

व इसके बाद भी कोई देश इन नियमो को पालन नहीं करता हैं तो उसको Black list में डाल दिया जाता हैं.

जो देश इस लिस्ट में आ जाता हैं उससे दुसरे देशो को व्यापार करने की इज्ज़ज़र नहीं होती हैं. आज के समय में पाकिस्तान को ग्रे लिस्ट में रखा गया हैं

अधिक जानकरी के ये विडियो देखे >>>>

source : khan GS Research Centre
2 thoughts on “Black money in india: जाने क्या होता हैं black money हिंदी में”

Leave a Reply

Live Updates COVID-19 CASES