Sat. Dec 5th, 2020
Prashant Bhushan Supreme Court Case में हुआ 1 रूपये का जुर्माना

नई दिल्ली: Prashant Bhushan Supreme Court Case में उनको 1 रूपये का जुर्माना लगाया गया हैं.

Advertisement
Advertisement

Prashant Bhushan ने 1 रूपये का  सिक्का पकड़े हुए फोटो खींचे, पत्रकारों को निर्देश दिया कि वह बाद में प्रकट करेंगे कि वह जुर्माना भुगतान करेंगे या नहीं और विपरीत विकल्पों का सामना करेंगे. 63 वर्षीय प्रशांत ने ट्वीट किया, “मेरे वकील और वरिष्ठ सहयोगी राजीव धवन ने अवमानना ​​के फैसले के तुरंत बाद 1 रूपये का योगदान दिया, जिसे मैंने कृतज्ञतापूर्वक स्वीकार कर लिया.”

इसे भी पढ़े ..Neuralink क्या हैं

Prashant Bhushan Supreme Court Case में हुआ 1 रूपये का जुर्माना
Prashant Bhushan Supreme Court Case में उनको 1 रूपये का जुर्माना लगाया गया हैं.

क्या हैं Prashant Bhushan Supreme Court Case की पूरी कहानी

Prashant Bhushan Supreme Court Case की पूरी कहानी में प्रशांत ने भारत के मुख्य न्यायाधीश एसए बोबडे और सुप्रीम कोर्ट के मामले में अवमानना ​​के लिए जिम्मेदार ठहराया और  उच्चतम न्यायालय द्वारा 1 रूपये का जुर्माना लगाया गया है. यदि वह 15 सितंबर तक सकारात्मक भुगतान नहीं करता है, तो उसे 3 महीने के लिए जेल और 3 साल के लिए अभ्यास से प्रतिबंध का सामना करना पड़ सकता हैं. सुप्रीम कोर्ट ने सोमवार को अपना आदेश सुनाते हुए कहा सुप्रीम कोर्ट ने प्रशांत भूषण के दो ट्वीट्स को अदालत की अवमानना के लिए ज़िम्मेदार माना था. कि कोर्ट का फ़ैसला किसी प्रकाशन या मीडिया में आए विचारों से प्रभावित नहीं हो सकता. अदालत ने कहा कोर्ट के विचार किए जाने से पहले ही प्रशांत भूषण के प्रेस को दिए बयान कार्यवाही को प्रभावित करने वाले थे. सुप्रीम कोर्ट ने अटॉर्नी जनरल केके वेणुगोपाल से लेकर अदालत की गोदी और प्रशांत भूषण तक की सलाह का हवाला देते हुए कहा, “बोलने की स्वतंत्रता पर अंकुश नहीं लगाया जा सकता।”

क्या हैं Prashant Bhushan Supreme Court Case की पूरी कहानी
Prashant Bhushan Supreme Court Case की पूरी कहानी
One thought on “Prashant Bhushan Supreme Court Case में हुआ 1 रूपये का जुर्माना”

Leave a Reply

Live Updates COVID-19 CASES